खून से पीएम को लेटर लिख मदद की गुज़ारिश कर रहा है ये चित्रकार

Narendra-modi

कई नामी हस्तियों के चित्र बना चुके बुंदेलखंड क्षेत्र के चित्रकार विनय कुमार साहू पिछले तीन साल से लिवर की बीमारी से जूझ रहे हैं। लेकिन आर्थिक तंगी की वजह से वह अपना इलाज नहीं करवा पा रहे हैं। इसी संबंध में विनय ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चिट्ठी लिखी है। ख़ास बात यह है कि विनय ने अपने खून से पीएम को लेटर लिखा है। ये पहला मौका नहीं है जब उन्होंने पीएम को लेटर लिखा हो। इससे पहले भी वह दो बार अपने खून से पीएम को लेटर लिख चुके हैं। लेकिन हैरान कर देने वाली बात यह है कि अभी तक विनय को इस लेटर का जवाब नहीं मिला है।




दिनों दिन बढ़ रही है विनय की बीमारी
विनय के मुताबिक उनकी बीमारी दिनों दिन बढ़ती जा रही है। पीएम मोदी से नाराज चित्रकार कहते हैं, ”प्रधानमंत्री तो हमेशा लोगों से अपनी बात उन तक पहुंचाने की बात कहते रहते हैं, पर आज जब मैं अपनी बात कह रहा हूं तो कोई उत्तर नहीं आ रहा है।” हालांकि इस संबंध में उन्होंने कहा कि वह मदद के लिए आखिरी सांस तक पीएम को पत्र लिखते रहेंगे।

यूपी सीएम को भी लेटर लिख चुके हैं विनय
चित्रकार विनय कुमार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी चिट्ठी लिखकर मदद की गुहार लगा चुके हैं। लेकिन वहां पर भी उनकी बात नहीं सुनी गई।जिसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री को पत्र लिखने का मन बनाया।




बुंदेलखंड में एम्स खुलवाना चाहते हैं विनय
विनय की चिंता सिर्फ़ अपनी बीमारी की नहीं है, बल्कि वह बुंदेलखंड में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) खुलने की मांग भी कर रहे हैं। बता दें कि विनय ने खुद तीन साल सिर्फ़ दिल्ली के एम्स में अपनी जांच करवाई। लेकिन वहां पर भीड़ के कारण उनका इलाज नहीं हो पाया है। विनय के मुताबिक वह कहते हैं कि लिवर ट्रांसप्लांट के लिए करीब 35 से 40 लाख रुपए चाहिए और उनके लिए यह रकम जुटाना संभव नहीं है।

बच्चों को नि:शुल्क चित्रकारी सिखाते है विनय
सूत्रों की माने तो विनय अपने आस-पास के बच्चों को नि:शुल्क चित्रकारी सिखाते हैं। ज़िन्दगी और मौत से संघर्ष कर रहे विनय का सपना है कि बुंदेलखंड में काबिल चित्रकार उभरे और उनका नाम रोशन करें। बता दें कि विनय ऑर्डर पर चित्र बनाते हैं।



Related posts

Leave a Comment