नवाजुद्दीन सिद्दीकी की हरामखोर मूवी यहाँ देखें

haraamkhor movie watch online

बॉलीवुड स्टार नवाजुद्दीन सिद्दीकी की फिल्म ‘हरामखोर’ मध्य प्रदेश के छोटे से गांव में की कहानी है, जहां स्कूल टीचर श्याम टेकचंद (नवाजुद्दीन सिद्दीकी) बच्चों को गणित पढ़ाते है।





बॉलीवुड स्टार नवाजुद्दीन सिद्दीकी की फिल्म ‘हरामखोर’ मध्य प्रदेश के छोटे से गांव में की कहानी है, जहां स्कूल टीचर श्याम टेकचंद (नवाजुद्दीन सिद्दीकी) बच्चों को गणित पढ़ाते है। उसकी कक्षा में संध्या (श्वेता त्रिपाठी) नाम की 15 साल की लड़की भी पढ़ती है जिस पर गुरुजी की खास नजर है। स्कूल के बाद संध्या श्याम के घर ट्यूशन पढ़ने जाती है। श्याम शादीशुदा है, लेकिन बावजूद इसके वह नाबालिग संध्या के साथ सबंध रखता है। उधर संध्या का क्लासमेट कमल भी संध्या को प्यार करने लगता है। कमल संध्या से अपने प्यार का इजहार करने के लिए कई कोशिशें करता है जो नाकाम रहती हैं। गुरू शिष्य के बीच के इन नाजायज संबंधों और कमल के संध्या के लिए प्यार का क्या अंजाम होता है यही फिल्म की कहानी है।




बता दें कि नवाज स्टारर यह फिल्म तकरीबन तीन साल पहले ही बनकर तैयार हो गई थी, हालांकि सेंसर के साथ-साथ कुछ अन्य मामलों के चलते इसकी रिलीज टाली जाती रही। हालांकि कई फिल्म फेस्टिवल्स में फिल्म की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। लेकिन यह गुरू शिष्य के बीच पनपे ऐसे रिश्ते की कहानी है जिसे समाज शायद कभी स्वीकार नहीं करेगा। इन्हीं कुछ कारणों के चलते फिल्म के भारत में रिलीज पर तलवार लटक रही थी। अब जब जबकि फिल्म को रिलीज किया जा चुका है तो देखना यह है कि नवाजुद्दीन को न्यूयॉर्क इंडियन फिल्म फेस्टिवल में बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड दिला चुकी यह फिल्म दर्शकों को कैसी लगती है।




जहां तक फिल्म में किए गए तकनीकी काम का सवाल है तो फिल्म की एडिटिंग काफी बिखरी हुई सी नजर आती है। जिसके चलते आप कहानी से कनेक्ट कर पाने में थोड़ा असहज महसूस करते हैं। फिल्म के सेंसर होने के बाद आपको वक्त-वक्त पर डिस्क्लेमर भी दिखाए जाते हैं। जो कि दर्शक का ध्यान बीच-बीच में भ्रमित करते हैं। फिल्म में पिता और बेटी के रिश्तों का ट्रैक कुछ अधूरा सा लगता है, जिसे बेहतर तरीके से लिखा जाता तो शायद फिल्म थोड़ी ज्यादा दिलचस्प लगती। फिल्म ऐसे वक्त पर रिलीज हुई है जहां आमिर खान की दंगल, आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर की ‘ओके जानू’ और हॉलीवुड दीपिका पादुकोण स्टारर फिल्म ‘Xxx’ पहले से ही सिनेमाघरों पर कब्जा किए बैठी हैं। ऐसे में यह लो बजट फिल्म सिर्फ एक्टिंग और कहानी के दम पर ही अपनी धाक जमा पाएगी।







Related posts

Leave a Comment