2017 रेल बजट – IRCTC से टिकट कराने पर नहीं लगेगा सर्विस चार्ज, हर डिब्बे में लगेंगे बायो-टॉयलेट

नई दिल्ली. 93 साल में पहली बार बुधवार को रेल बजट, आम बजट के साथ पेश किया गया। अरुण जेटली ने कहा कि रेल सेफ्टी फंड के तहत रेलवे को 5 साल के लिए 1 लाख करोड़ का फंड मिलेगा। वहीं, IRCTC से टिकट बुक कराने पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा। ‘मेरा सफर’, ‘मेरी सुविधा’ और ‘मेरी जेब’ के तहत हम बता रहें हैं कि इस साल रेल बजट में आपके लिए क्या है? शेयर मार्केट में लिस्टेड होगी IRCTC​…




– रेलवे की कंपनी आईआरएफसी, इरकान और आईआरसीटीसी को शेयर मार्केट में लिस्टिंग की जाएगी।
– 2017-18 में रेलवे में इन्वेस्टमेंट एक लाख 31 हजार करोड़ रु. का होगा जिसमें करीब 55 हजार करोड़ सरकार देगी। 2016-17 में यह राशि एक लाख 21 हजार करोड़ थी।
 



1# मेरा सफर
– जेटली ने कहा कि रेल सेफ्टी फंड के तहत पांच साल के लिए 1 लाख करोड़ मिलेंगे।
– सरकार गाइडलाइन बनाएगी ताकि इस फंड का इस्तेमाल हो सके।
– 2020 तक ब्रॉडगेज लाइन पर मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग खत्म कर दी जाएगी।
– रेलवे एक जगह से दूसरी जगह तक इंटीग्रेट ट्रांसपोर्ट सॉल्यूशन भी लाएगा।
– टूरिज्म और तीर्थयात्रियों के लिए नई ट्रेनें शुरू की जाएंगी।
– इस फाइनेंशियल ईयर में रेलवे 3500 किमी का ट्रैक बिछाएगा। पिछले साल 2800 किमी का ट्रैक बिछाने का एलान किया गया था।
 
2# मेरी सुविधा
– 500 स्टेशन डिफरेंटी एबल्ड फ्रेंडली बनाए जाएंगे। इन स्टेशनों पर एस्केलेटर्स और लिफ्ट्स लगाई जाएंगी।
– 7000 स्टेशंस को सोलर पावर से चलाया जाएगा।
– नई मेट्रो रेल पॉलिसी का एलान किया जाएगा। इससे यूथ्स के लिए जॉब्स के नए मौके पैदा होंगे। इससे प्राइवेट पार्टिसिपेशन में मदद मिलेगी।
– 2019 तक रेल के सभी डिब्बों में बायो टॉयलेट्स लग जाएंगे।
– ‘कोच मित्र’ सुविधा शुरू की जाएगी। ये कोच मित्र आपके डिब्बे से जुड़ी हर प्रकार की समस्या को हल करेंगे। ‘क्लीन माई कोच’ ऐप लॉन्च किया जाएगा। यानी एक मैसेज पर आपके डिब्बे की सफाई हो सकेगी।
– रेलवे सड़क ट्रांसपोर्टरों के साथ साझेदारी कर कुछ मदों में कस्टमर के पास से माल उठाकर दूसरे स्थान तक पहुंचाएगा।
25 स्टेशनाें का रीडेवलपमेंट होगा। 2017-18 में 25 स्टेशनों को अवॉर्ड भी दिया जाएगा।
 



3# मेरी जेब
IRCTC से टिकट बुक कराने पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा।
 
सर्विस चार्ज को ऐसे समझिए
– अभी तक रेलवे, AC कोच में ऑनलाइन टिकट करने पर 40 रुपए और स्लीपर में 20 रु. के हिसाब से सर्विस चार्ज लेता था।
– यानी अगर एसी कोच में किराया 500 रु है तो सर्विस टैक्स मिलाकर आपके 540 रु. कटेंगे।
– वहीं, स्लीपर में अगर किराया 500 रु. है, सर्विस टैक्स मिलाकर 520 रु. कटते थे।
– बजट में जेटली ने एलान किया है कि अब ऑनलाइन टिकट बुक करने पर सर्विस चार्ज नहीं कटेगा।



loading…


Related posts

Leave a Comment